कुछ ही समय में होने वाले लोक सभा चुनाव को लेकर देश की दोनों पार्टियों के बिच में जितने के काफी होड़ मची हुई हैं ।दूसरी तरफ विपक्ष की और से प्रधानमंत्री के पद के उम्मीदवार को लेकर किसी ज्यादा घमाशान देखा जा रहा हैं ।जी हाँ दोस्तों जैसे के आप सभी जानते हैं की राहुल गाँधी अपने आप को प्रधानमंत्री के पद पर देखना का सपना देखते हैं लेकिन उनके इस सपने पर किसी और ने नहीं बल्कि उन्ही की पार्टी के नेता ने पानी फेर दिया ।जी हाँ दोस्तों कांग्रेस के बड़े नेता चिंदंबरम ने इस साल 2019 में होने वाले पीएम पद के लिए कांग्रेस उम्मीदवार को लेकर बड़ा बयान दिया है ।तो आइये जानते है क्या हैं पूरा मामला

चिदमबरम ने पीएम पद के उम्मीदवार को लेकर बयान दिया की की राहुल गांधी पीएम नहीं बनेगे क्यूंकि कांग्रेस खुद उन्हें पीएम नहीं बनानां चाहती हैं ।पूर्व केंद्रीय वित्तमंत्री चिंदबरम ने आगे इस मामले में बताया की उन्हें इस बात को लेकर इस वजह से बोलना पड़ रहा हैं क्यूंकि कांग्रेस के बहुत से ऐसे नेता हैं जो राहुल को पीएम के पद को लेकर भाषण देते दिखे हैं ।चिंदबरम ने कहा कि कांग्रेस चुनाव से पहले राहुल ही नहीं किसी अन्य नेता का नाम भी पीएम पद के लिए घोषित नही करेगी। इस दौरान वे पीएम मोदी पर बड़ा आरोप लगाते हुए भी नज़र आये।

चिदंबरम ने भाजपा पर काफी आरोप लगाए उन्होंने कहा की बीजेपी लोगो को धमकाने की राजनीति कर रही हैं ताकि कांग्रेस के साथ क्षेत्रीय पार्टिया हाथ न मिलाएं ।पीएम पद के उम्मीदवार को लेकर चिंदबरम ने कहा की पीएम पद के उम्मीदवार का नाम कांग्रेस महागठबंधन के समर्थन से ही तय करेगी, लेकिन बीजेपी अब ओछी राजनीति पर उतर आई है, जोकि राजनीतिक के नज़रिये से सही नही है।चिदंबरम ने ये भी कहा की वह अब बीजेपी सरकार को सत्ता से बाहर कर के ही रहेंगे ।

वैसे चिदंबरम के इस बयान से भली ही विपक्ष में खलबली मच गयी होगी लेकिन उन्होंने खुद की ही पार्टी केअध्यक्ष राहुल गांधी के सपनों को तोड़ रहे है ।आप की जानकारी के लिए बता दे की दे हाल ही में राहुल ने कर्नाटक में एक रालय के दौरान भाषण देते हुए कहा की अगर इस बार कांग्रेस बड़ी पार्टी बनकर उभरेगी तो में अपने आप को पीएम पद पर देखना चाहता हु ऐसे में चिंदबरम का यह बयान कहीं न कहीं यह दर्शाता है कि विपक्ष को एकजुट करने के लिए राहुल खुद का सोना भी तोड़ने के लिए तैयार हो चुके हैं।